Breaking News
Home / जिलेवार / पूछा- किसान परिवारों से मिलने क्यों नहीं गए? योगी का सिद्धारमैया पर पलटवार

पूछा- किसान परिवारों से मिलने क्यों नहीं गए? योगी का सिद्धारमैया पर पलटवार

कर्नाटक में चुनाव प्रचार अपने अंतिम दौर में चल रहा है. राजनीतिक पार्टियों के स्टार प्रचारक लगातार बड़ी रैलियों को संबोधित कर रहे हैं. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और बीजेपी के स्टार प्रचार योगी आदित्यनाथ मंगलवार को भी कर्नाटक में प्रचार करेंगे. कर्नाटक सीएम सिद्धारमैया और योगी आदित्यनाथ के बीच पिछले कुछ समय से जुबानी जंग चल रही है, जो अभी भी जारी है.

हाल ही में उत्तर प्रदेश में आए तूफान के समय सिद्धारमैया ने योगी पर वार करते हुए कहा था कि यूपी सीएम यहां प्रचार में बिज़ी हैं, लेकिन उनके प्रदेश में आपदा आई हुई है. इस पर योगी ने पलटवार किया है. उनका कहना है कि तूफान आने के 24 घंटे बाद ही मैंने से मुलाकात की, लेकिन क्या कभी सिद्धारमैया ने उन किसानों के परिवारों से मुलाकात की जिन्होंने राज्य में खुदकुशी की थी.

आपको बता दें कि मंगलवार को भी योगी आदित्यनाथ राज्य में धुआंधार प्रचार करेंगे. योगी आज भटकल, बेयनदूर, मुबाबिद्र, गोकाक में चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे.

सिद्धारमैया सरकार पर जमकर किया था वार

गौरतलब है कि योगी आदित्यनाथ ने 3 मई को राज्य में प्रचार शुरू किया था. कर्नाटक के सिरसी में जनसभा को संबोधित करते हुए योगी ने कहा था कि यहां पर आज एक राष्ट्रवादी सरकार की जरूरत है, जो कि राज्य से जिहादी तत्वों को बाहर निकाल सके.

योगी ने कहा कि आज यूपी में जिहादी नहीं हैं, लेकिन कर्नाटक में जिहादी हैं. उत्तर प्रदेश में आज आप बेगुनाहों को नहीं मार सकते हैं, लेकिन कर्नाटक में हिंदू मारे जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि कर्नाटक में बीजेपी और हिंदू कार्यकर्ताओं को मारा जा रहा है, लेकिन राज्य सरकार जिहादी तत्वों को सपोर्ट कर रही है. उन्होंने कहा कि क्या यासीन भटकल जैसे लोग अब हमें बताएंगे कि सरकार कैसे चलानी चाहिए. कर्नाटक में लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति ठीक नहीं है.

गौरतलब है कि कर्नाटक में 12 मई को मतदान होना है. राज्य में 15 मई को नतीजे घोषित होंगे. हाल ही में आए कई ओपेनियन पोल में त्रिशंकु विधानसभा होने की आशंका दिखाई दी. ओपेनियन पोल में देवगौड़ा की पार्टी जेडीएस किंग मेकर की भूमिका में नज़र आ रही है. इंडिया टुडे के पोल में कांग्रेस को 90 से 101 सीट और बीजेपी को 78 से 86 सीट मिलने की संभावना है. वहीं जेडीएस को 34-43 सीट मिलने की संभावना है.

About अभय कुमार

Check Also

जनसम्पर्क कार्यालय बढ़नी में पूर्व प्रधान मंत्री अटल विहारी वाजपेयी को श्रद्धाजंलि अर्पित किया गया 

पवन यादव की रोपोर्ट बढ़नी सिद्धार्थनगर पूर्व प्रधानमंत्री अटलबिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि अर्पित करने का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *