Breaking News

खेसरहा थाना अंतर्गत ग्राम बन्हैती में 12 मई की रात 10 व 11:00 बजे के बीच हुई महिला की हत्या में हत्यारोपी रज्जाक पुत्र अली रजा व पिंटू पुत्र सिद्दीकी 5 दिन बीतने के बावजूद गिरफ्तारी में हो रहे विलंब को लेकर क्षेत्रवासियों में आक्रोश है। लोगों की माने तो स्थानीय पुलिस जानबूझकर आरोपियों की गिरफ्तारी में ढिलवाही बरत रही है। उक्त क्रम में ही बन्हैती गांव से सटे घोसियारी बाजार वासियों का आक्रोश बढ़ता गया और लोगों ने अपनी- अपनी दुकानों को बंद कर आक्रोश प्रकट किया।प्रशासन ने लोगों के आक्रोश को देखते हुए एहतियातन घोसियारी बाजार को छावनी में तब्दील कर दिया।

बताते चलें घोसियारी बाजार से सटे ग्राम बन्हैती में 12 मई की रात ग्रामवासी विजय कुमार अग्रहरि की लगभग 30 वर्षीय पत्नी विंध्यवासिनी की हत्या हो गई थी, मृतका के पति के तहरीर पर खेसरहा पुलिस ने ग्रामवासी दूसरे समुदाय के पिंटू पुत्र सिद्दीक  तथा ग्राम शालेपुर थाना दुधारा निवासी रज्जाक पुत्र अलीरजा पर हत्या का मुकदमा पंजीकृत कर आरोपियों की तलाश कर रही है।हत्या के चार दिन बीत जाने के बाद पांचवें दिन बुधवार को क्षेत्रवासियों का आक्रोश उग्र हो गया , और लोगों ने स्थानीय घोसियारी बाजार में स्थित अपनी दुकानों को बंद कर प्रशासन को क्षेत्र वासियों में पनप रहे आक्रोश का संकेत दे दिया।जिससे पूरे बाजार में दिन भर सन्नाटा पसरा रहा,। मामले को गंभीरता से लेते हुए प्रशासन ने बन्हैती गांव सहित पूरे घोसियारी बाजार को छावनी में तब्दील कर दिया। उप जिलाधिकारी प्रबुद्ध सिंह, C.O. उमाशंकर सिंह, कोतवाल वांसी रविंद्र कुमार सिंह, इंस्पेक्टर खेसरहा रणधीरकुमार मिश्राआदि सभी घोसियारी में कैंप कर रहे हैं। तथा पथरा थाना अध्यक्ष दीपक दुबे थाना भवानीगंज इंस्पेक्टर प्रदीप सिंह सहित भारी संख्या में पुलिस बल घोसियारी में तैनात है। पूरे बाजार में सन्नाटे का माहौल है। समाचार लिखे जाने तक एक भी दूकान नहीं खुली थी। प्रशासन स्थित सामान्य कराने के प्रयास में लगा था। इंसपेक्टर रणधीर मिश्र भी मौजूद लोगों से आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने का आश्वासन दे रहे थे।

मौके पर मौजूद ग्राम प्रधान घोसियारी आशुतोष मिश्रा, बबलू मिश्रा, विवेक तिवारी, दिनेश तिवारी, राजेश गुप्ता, रवि मिश्रा, पंकज श्रीवास्तव, शारदा मिश्रा, मुकेश गुप्ता, राम किशोर गुप्ता, राम शंकर गुप्ता, उमेश गुप्ता, जुगानी गुप्ता आदि ने शासन प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराते हुए मृतका के परिवार को कम से कम 500000 की आर्थिक सहायता देने की मांग कियाहै। और कहा कि क्षेत्र में इतनी बड़ी घटना होने के बावजूद राष्ट्रीयकृत किसी भी पार्टी का कोई बड़ा जनप्रतिनिधि अथवा पार्टियों के संगठन से किसी पदाधिकारी ने आकर पीड़ित परिवार को सांत्वना देने का कार्य नहीं कर रहा है जो समझ से परे है उन्होंने बताया कि पीड़ित परिवार बहुत ही निर्धन है। मृतिका के क्रिया कर्म के लिए भी लोग चंदा लगाकर मदद देने का कार्य कर रहे हैं।

About अभय कुमार

Check Also

बांसी न0प0 आर्दश की लापरवाही, नाला बना दिया लेकिन ढक्कन अभी तक नहीं लगाया

बांसी। बस स्टेशन के दक्षिणी प्रवेश द्वार पर नाला निर्माण के नाम पर लगभग 20 दिनों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *